(CDN)content delivery network क्या होता है? 2019

By | June 21, 2018

(CDN)content delivery network क्या होता है? 2019

नमस्कार दोस्तों आज हम बकैती करने वाले हैं किसी CDN क्या होता है यानी कि content delivery network kya hota hai

तो जैसा की मैंने कहा बकैती यानी कि आज हम ज्ञान बांटने वाले थोड़ा गुंडों वाली लैंग्वेज है ना अच्छा आइए अपनी formal लैंग्वेज में आ जाते

दोस्तों जैसा कि नाम से ही पता चलता है content delivery network यानी की कंप्यूटर का एक ऐसा नेटवर्क जो कि content जल्दी से जल्दी डिलीवर कर सके..

तो सबसे पहले बात करते हैं कि हमें डिलीवरी नेटवर्क की जरूरत क्यों पड़ती है..

content delivery network का प्रयोग blogger यानी की वेबसाइट ke owner करते हैं..

और इस का काम होता है आपकी वेबसाइट की स्पीड को बढ़ाना है तेज करना

अब अगर आप सोच रहे हैं कि वेबसाइट की स्पीड को कैसे बढ़ाए गा तो मैं आपको बताता हूं

कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क में होता यह है कि किसी सर्विस का पूरी दुनिया मे अलग-अलग जगह पर सवार होता है

सबसे पहले आप को समझना होगा कि इंटरनेट में डाटा फ्लू कैसे होता है

इंटरनेट पर जो डाटा का प्रूफ है वह वायर के जरिए होता है यानी कि ऑप्टिकल फाइबर केबल तारों के जरिए होता है

और हमको लगता है कि यह वायरलेस कनेक्शन से इंटरनेट हमारे मोबाइल में कंप्यूटर में चल रहा है hD की टावर से तार कनेक्टेड होते हैं जोकि ऑप्टिकल फाइबर केबल होते हैं

और इन्हीं में से डाटा फ्लोर होकर के एक सिटी से दूसरे सिटी एक स्टेट से दूसरे स्टेट जाता है और रिक्वेस्ट डाटा यानी की फाइल को पहले उसी कंट्री में सर्च करने की कोशिश करता है

अगर वह डाटा उसी कंट्री में है तो वेबसाइट जल्दी खुल जाती है और पिंक टाइम कम हो जाता है

और फिर फाइल किसी दूसरे कंट्री में है तो जो फाइल की रिक्वेस्ट है वह ऑप्टिकल फाइबर केबल के जरिए समुद्र के अंदर से ट्रैवल करती है और उस दूसरे कंट्री में जाकर के उस फाइल को ले करके आती है और आपके मोबाइल में कंप्यूटर में दिखाती है

जिससे की वेबसाइट को खोलने में थोड़ा सा टाइम लग जाता है और पिन ग्रेट बहुत ही बढ़ जाता है

इन्हीं चीजों से बचने के लिए कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क n e c d n का यूज़ किया जाता है

आइए आपको उदाहरण से समझाता हूं

मान लीजिए एक सर्विस है जिसका की सरवर है इंडिया में जर्मनी में अमेरिका में ऑस्ट्रेलिया में रसिया में

और इस सर्वर को अपनी वेबसाइट पर जोड़ा है किसी ब्लॉगर में

अगर धूप में बैठा कोई इंसान उस वेबसाइट को खोलता है तब कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क उस फाइल की रिक्वेस्ट को रसिया के सर्वर से जोड़ देगा और इसकी वजह से इंटरनेट का जो ट्रेवल टाइम है वह बहुत कम हो जाएगा और वेबसाइट बहुत तेज खुलेगी सिर्फ रसिया में

पर अगर कोई इंसान इंडिया से उसी वेबसाइट को खोलता है तो जो हमारा कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क है वह उस भाई की रिक्वेस्ट को इंडिया की सर्वर से जोड़ देगा

इसी तरह से कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क काम करता है या नहीं कि आपकी वेबसाइट

कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क आपकी वेब सर्वर पर हाई ट्रैफिक होने से भी बचाता है

जैसे कि अगर आपकी वेबसाइट को रूस से 10000 लोग इंडिया से 20000 लोग बांग्लादेश से 2 करोड लोग खोल रहे हैं

तू ऐसे में अगर सारी फाइल रिक्वेस्ट आपकी मिन्नत जरूरत पड़ जाएंगी तो आपका मन वेब सर्वर स्लो हो जाएगा और सभी रिक्वेस्ट को डिस्काउंट नहीं कर पाएगा

पेपर का यूज़ किया जाता है ताकि रूस का ट्रैफिक रूस में ही रुक जाए इंडिया का ट्रैफिक इंडिया में ही रुक जाए और बांग्लादेश का ट्रैफिक बांग्लादेश में ही रुक जाए

ऐसे में कई सर्वर पर थोड़ा-थोड़ा लोड पड़ता है पर सारा का सारा लोड आपके मेन सरवर पर नहीं पड़ता है

अभी नेटवर्क आपको हैकिंग से भी बचाता है

अगर किसी ने आपकी वेबसाइट पर डॉस अटैक कर दिया है

और आपकी वेबसाइट पर कुछ ही लिमिटेड समय के अंदर बहुत सारा ट्रैफिक बहुत ट्रैफिक भेज दिया

तो ऐसे में जो आपकी वेबसाइट की बैंडविथ होती है वह एक्सीड हो जाती है और बैंडविथ एक्सीडेंट हो जाने के कारण आपकी वेबसाइट टेंपरेरी डाउन हो जाती है एक-दो दिन के लिए

पर कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क का यूज करने पर उस सर्विस का सिक्योरिटी सिस्टम बहुत ट्रैफिक को पहचान लेता है

और ऐसी बहुत ही सारी फाइल रिक्वेस्ट को हमारे सरवर तक आने ही नहीं देता है

जिससे कि हमारे वेबसाइट का बैंडविथ एक्सीड नहीं होता है

और वेबसाइट डाउन नहीं होती है

यह तो रही पूरी जानकारी कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क के बारे में अगर आप अपनी वेबसाइट में कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क लगाना चाहते हैं यानी की सीरियल लगाना चाहते हैं तो शुरू के वक्त में आप कुछ फ्री सर्विस इसका यूज कर सकते हैं जो कि बहुत ही प्रसिद्ध है

फिर जैसे-जैसे आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ता जाएगा वैसे वैसे आपको इन प्लांट्स को अपग्रेड करना होगा

यहां पर मैं कुछ फेमस अंतर्वर्ती लिंक दे रहा हूं आप जाकर के ट्राई कर सकते हैं

पोस्ट आपको कैसा लगा नीचे कमेंट करके बताइएगा और हो सके तो शेयर कीजिएगा

ऐसे और पोस्ट पढ़ने के लिए आप हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब कर सकते हैं पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *